... ON BORROWING a BOOK VS BUYING IT

""When you buy it, you are promoting the literature of your country.""

ई-मेल में सूचनाएं, पत्रिका व कहानी पाने के लिये सब्स्क्राइब करें (यह निःशुल्क है)

16 जुलाई 2016 की शाम मुंबई के मणिबेन नानावटी महाविद्यालय में एक भव्य आयोजन में प्रसिद्ध अभिनेता राजेंद्र गुप्ता ने वरिष्ठ कहानीकार संतोष श्रीवास्तव को हिंदी कहानी प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पाने के उपलक्ष्य में 50000 रुपये और प्रतीक चिह्न दे कर सम्मानित किया। इस अवसर पर राजेंद्र गुप्ता ने  स्‍टोरीम...

जहरखुरानों से सावधान...। यह आपको बर्बाद कर सकता है। इसलिए किसी पर भरोसा न करें ... न किसी का दिया कुछ खाए - पीएं... वगैरह - वगैरह...।

इलाहाबाद जंक्शन पर लगे इस आशय के बड़े से बोर्ड ने मेरा तनाव बढ़ा दिया था। क्योंकि अपनी वापसी यात्रा पर मैं बिल्कुल अकेला था। ट्रेन आने वाली थी। जबकि आरक्षण कराने की मे...

मुम्बई सेंट्रल. यात्रीगण अपनी-अपनी ट्रेन के आने के इंतज़ार में बैठे हैं. कुछ को ट्रेन पकड़ के कहीं जाना है. और कुछ, किसी के आने का इंतज़ार कर रहे हैं. सुबह-सुबह शोर थोड़ा कम है. लोग भी कम हैं. कुली लोग सामान ढ़ोने वाली हाथगाड़ी लेके तैयार हो रहे हैं. मुम्बई राजधानी कुछ ही देर में आने वाली है.

कुछ लोग अख़बार...

ट्रेन के उस कम्पार्टमेंट में ग़ज़ब की भीड़ थी. हालाँकि वह रिज़र्व कोच था, लेकिन प्लेटफॉर्म पर खड़ी भीड़ ने इस बात की तिलभर परवाह नहीं की और जो डिब्बा जिसके सामने आया वह उसी में जा घुसा.

वह एक गंदा-सा आदमी था, भिखारीनुमा. जगह-जगह थेगली लगी चीकट कमीज़, थेगलियों वाला ही चीकट कोट, वैसी ही चीकट पेंट. कंधे पर वैस...

Please reload

eKalpana literary magazine

​​Contact & Social Media -

ekalpanasubmit@gmail.com

सभी रचनाएं
ekalpanasubmit@gmail.com पर भेजें
Please reload

Please reload