logoPaanchK.jpg

ई-कल्पना पत्रिका की बेहतरीन कहानियों के संकलन

ISSN 2693-7212

ई-कल्पना की इस सप्ताह की प्रस्तुति कुछ समय के लिये उपलब्ध है ... पाठक अब अलग इकलौती कहानियाँ खरीद भी सकते हैं ...

इन्हें आप बस, ट्रेन या प्लेन के लम्बे सफर में पढ़िये, या ऑफिस जाते वक्त मैट्रो में,

या फिर अपने घर की आराम कुर्सी पर बैठ कर ...

अपने फोन पर, या आई-पैड पर ...

"पाँच कहानियाँ" के हर संकलन की हर कहानी आपका जी लुभा लेगी ...

 

हर संकलन में पाँच कहानियाँ हैं ...

हर संकलन लगभग 100 पृष्ठों का है ...

ePUB फौरमैट की किताबें पढ़ने के लिये

  • iPhone, iPad या Mac में iBooks app का इस्तेमाल करें

  • Samsung या Android phone में Google Play Books app का इस्तेमाल करें

  • Windows PC में  हम pdf फौरमैट इस्तेमाल करने की सलाह देंगे

ध्यान दें, हर खरीदी हुई प्रति आपको दोनों फौरमैट में उपलब्ध हैं और एक ही मूल्य में दोनों फौरमैटों में प्राप्त होंगी

ePub फौरमैट में ई-बुक

मूल्य - ₹ 50

30वें संकलन में शामिल - डॉ रंजना अरगड़े' की  कहानी - "विष्णु पुराण"

  

ePub फौरमैट में ई-बुक

मूल्य - ₹ 50

30वें संकलन में शामिल - सुधा गोयल 'नवीन' की  कहानी - "और बादल छंट गए"

  

ePub फौरमैट में ई-बुक

मूल्य - ₹ 50

30वें संकलन में शामिल - हुस्न तबस्सुम 'निहाँ' की  कहानी - "विष सुंदरी, उर्फ़ सूरजबाई का तमाशा"

  

ePub फौरमैट में ई-बुक

मूल्य - ₹ 50

30वें संकलन में शामिल - दिव्या शर्मा की  कहानी - "वह बरसा ज़िन्दगी में सावन बनकर"